0 Comments

SUN Planets Effects.

सूर्य – ग्रहो में राजा ! चमकता सितारा सूरज | सूरज एक घर बादल के नीचे | सूरज गुरु और पिता को कहा गया है | पर खुद शनि का पिता है | रूह और संसार का मालिक बृहस्पति गृह है | दुनिआ और शरीर यानि बुत सब सूर्य का है | सूरज अपने जिस्म […]

0 Comments

guru/brhaspat grah

गुरु ग्रह को बृहस्पत भी कहते है |और हाथ मे किस्मत रेखा को बृहस्पति की रेखा भी कहा गया है| गुरु ग्रह दोनों जहान का मालिक है बृहस्पत की किसी से कोई दुश्मनी नहीं मगर बुध शुक्र खुद दुश्मनी करते है जब दुसमन ग्रह बृहस्पति के बुर्ज या कुंडली मे हो तो दुश्मनी का असर […]

0 Comments

Moon Planets.

चंद्र जंगल की धरती माता | दिल का स्वामी चद्र है और जो की सूर्य से रौशनी लेता है |सूर्य चाहे जितना भी गरम होकर होकर आज्ञा दे लेकिन चंद्र उससे ठन्डे दिल और शान्ति से पूरा करता है और सदा सूर्य के पैरो में रहने में पसंद करता है | चद्र हमेशा राशि फल […]

0 Comments

Venus planet effects |

शुक्र गृह को सांसारिक भाग्य से कोई सम्भन्द नहीं है | सब और से बिगड़ी या सबकी बिगड़ी बनाने वाला शुक्र गृह है | मर्द की कुंडली में शुक्र का अर्थ इस्त्री और शुक्र का मतलब मर्द | जातक की कुंडली में अकेला बैठा शुक्र कभी मंदा असर नहीं देगा | और ग्रहस्त जीवन में […]

0 Comments

Lal Kitab

खुद इंसांन की पेश न जावे , हुकम विआदाता होता है|सुख दौलत और साँस आखरी, उम्र का फैसला होता है ||बीमारी का इलाज है मगर मौत का कोई इलाज नहीं है दुनियावी हिसाब किताब है कोई दावा -ऐ – खुदाई नहीं |समय करे नर क्या करे , समय बड़ा बलवान |असर गृह सभी पर होगा, […]