Venus planet effects |

| | 0 Comments

शुक्र गृह को सांसारिक भाग्य से कोई सम्भन्द नहीं है | सब और से बिगड़ी या सबकी बिगड़ी बनाने वाला शुक्र गृह है | मर्द की कुंडली में शुक्र का अर्थ इस्त्री और शुक्र का मतलब मर्द | जातक की कुंडली में अकेला बैठा शुक्र कभी मंदा असर नहीं देगा | और ग्रहस्त जीवन में भी कीसी दूसरे का बुरा असर नहीं करेगा | सूर्य का गुस्सा शुक्र को तब्हा करेगा | शुक्र जब तक शनि के मंदे कामो से दूर रहे तो नेक असर का होगा | जैसे तुला राशि निरपक्ष फैसला करती है | शुक्र ने शनि से आंख की उधारी ली हुई है | यानी की शुर्क गृह ने चालाकी और चुस्ती शनि से ली हुई है | कभी गरम कभी सर्द खभी खूब ख़ुशी कभी चुराई नज़र से देखने वाली होती है | शुक्र की आँख कभी दाएं कभी बाएं हर तरफ से हर रंग में बदलने वाली होजाती है |
अगर शनि से आँख न लाती तो शुक्र और सूर्य की दुश्मनी न होती |
सूर्य का लड़का(शनि ) सूर्य के खिलाफ न होता |

शुक्र के मंदे और अच्छा गृह असर

  • खाना न. 1 में अगर शुक्र हो तो एक तरफ की सोच होगी | ऐश और इश्क़ की पूजा में अँधा होगा |
    खाना ज.
  • 2 में हो तो बढ़िया परिवार औलाद का पूरा सुख, खूबसूरत और अपने स्वाभाव का मालिक, जो सोचा वही करेगा |
  • खाना न.3 में हो तो मर्दो की जगह काम करना वाला | इस्त्री मर्द जैसे हिम्मत वाली – यानी खाना 3 में शुक्र जातक मेहनती होगा |
  • खाना न. 4 में हो तो दो औरत का साथ होगा |
  • खाना न. 5 परिवार बच्चों से भरा होगा और आये कभी बंद नहीं होगी |
  • खान न. 6 न पुरुष न इस्त्री न पुँसक के हालत होंगे |
  • खाना न. 7 जिस गृह के साथ बैठा होगा तो वैसे हे असर होगा, और जातक बुढ़ापे में ज्ञान देने वाला
    होगा |
  • खाना न. 8 में हो तो जली मिटटी का असर | हर सुख में सबका शुक्रिया करता रहेगा |
  • खान न. 9 में हो तो मंगल बद्द होगा | अपनी बिमारी के द्वारा पैसे का नुक्सान मगर घर में ऐशो आराम के
    सामान या धन की कमी नहीं होगी |
  • खाना न. 10 में हो तो शनि के असर से, इस्त्री हो तो पुरुष उसके प्यार के चक्कर में फास जाए | मर्द हो तो इस्त्री की चक्कर में फास जाए |
  • खाना न. 11 में हो तो लट्टू की तरहं घूम जाने वाले हालत होंगे | जातक की ज़िन्दगी में स्थिरता नहीं होगी पर फिर भी आये के साधन बने रहते हैं |
  • खाना न. 12 हो तो इस ज़िन्दगी से पार करने वाला होगा | दूसरा जनम नहीं होगा |
    पर अपनी साड़ी आयु सेहत के सम्बंद में रोते रोते निकलेंगे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *